सपने जमीन पर
    7 days ago

    इंदिरा आवास योजना 

      अब तक आपने पढ़ा : मंडल जी के पास रहकर शोध कर रहे दोनों विद्यार्थी सरकारी शिक्षण संस्थान की…
    मुकुटधर पाण्डेय
    2 weeks ago

    हिन्दी में छायावाद : संक्षिप्त तुलना

      पिछले लेख से पाठक ‘छायावाद’ का स्थूल-रूप समझ गये होंगे। अब उसी के आधार पर संक्षिप्त तुलना द्वारा यह…
    सपने जमीन पर
    2 weeks ago

     मुखिया जी और जनहित योजना

         अब तक आपने पढ़ा: मंडल जी के गांव में दो विद्यार्थी शोध कार्य के लिए आये थे। उन्होंने…
    रंगमंच
    3 weeks ago

    नयी नयी-सी है पर तेरी रहगुज़र फिर भी…

      फ़िराक़ साहब ने चाहे जिस भाव व कला के लिए कहा हो – ‘हज़ार बार जमाना इधर से गुजरा…
    सपने जमीन पर
    4 weeks ago

    आवाज के प्रकार

      अब तक आपने पढ़ा : बी ए पी एल पार्टी के नेता मंडल जी के गांव में 2 विद्यार्थी…
    रंगमंच
    July 11, 2022

    ‘पूर्वांचल के नायक’ में आधा सौ बच्चे मंच पर…

      जब किसी नाट्यमंचन में 46 कलाकर आदि से अंत तक एक साथ मंच पर हों, तो उस नाटक की…
    संस्मरण
    July 8, 2022

    52 सालों बाद दादीमाँ के मायके में एक दिन…

      दादीमाँ का मायका-याने मेरे पिता-काका…आदि का ननिहाल और मेरा अजियाउर। दादी को आजी भी कहा जाता है-दक्षिण भारत में…
    मुकुटधर पाण्डेय
    July 3, 2022

    छायावाद क्या है?

           हिन्दी में यह एक बिलकुल नया शब्द है ; अतएव पाठक पूछ सकते हैं कि वह क्या…
    रिपोर्ट
    July 3, 2022

    अवसाद का आनंद : जीवनी-लेखन का मानक

      सविता श्रीवास्तव वाराणसी-निवासी कालजयी महाकवि जयशंकर प्रसाद के पार्थिव निधन के 85 सालों बाद रज़ा फ़ाउंडेशन, दिल्ली ने पहली…
    सपने जमीन पर
    June 30, 2022

     दूरदर्शिता

      अब तक आपने पढ़ा: उभरते हुए नेता, मंडल जी के गाँव में दो विद्यार्थी गरीबी के कारण के बारे…

    कथा संवेद

    • कथा-संवेद – 21

      कथा-संवेद - 21

        इस कहानी को आप कथाकार की आवाज में नीचे दिये गये…

    • कथा संवेद – 20

        इस कहानी को आप कथाकार की आवाज में नीचे दिये गये…

    • कथा-संवेद – 19

        इस कहानी को आप कथाकार की आवाज में नीचे दिये गये…

    फणीश्वर नाथ रेणु

    Back to top button